Where is Benefit in learning Music, online or from a Music Teacher?

Where is Benefit in learning Music, online or from a Music Teacher?

Spread the love

Rate this post
Where is Benefit in learning Music, online or from a Music Teacher?
Where is Benefit in learning Music, online or from a Music Teacher?

🙏🎶🇲🇾🎵🇨🇦🎤🇱🇷🎹🇬🇧🎻🇬🇧🎤🇦🇮🎷🇱🇷🎶🇳🇪🙏

Where is Benefit in learning Music, online or from a Music Teacher?

🎶🎵🎹 Friends, there was a time that music learners could learn music only from any Music Teacher , among them there were some Music Teachers who taught music early, but there were some masters who did not teach music to their disciple for many years. Were. If he used to give any lessons, he used to give very little. For this reason very few people could learn music at that time. Because being patient for many years is probably not everyone’s thing. That is why many music learners used to leave music learning in the middle. But today is a good time. You get many options to learn music. Today too many such ways have become online that any person can learn music very well and quickly without any guru (Teacher) and without paying any fees. And many of you who are reading this post, then those people must also know this very well and those who want to learn music, then a question definitely comes in their mind that to learn music from any Music teacher or must learn online. I mean to say that there is a benefit in learning music online or there is benefit in learning music from a teacher. In today’s post, I am going to tell you some such 5 points, after knowing which you will know whether you have advantage in learning music from a teacher or is there an advantage in learning online? And if you want to learn music then after reading this post you will be able to decide very easily whether you should learn music from a teacher or learn online.

Read More:–How to learn music for free, without Fess, without any Music Teacher?

And what are the points, after knowing which you can decide whether you should learn music online or learn from any teacher, let us now tell you one by one. :–

⭐⭐⭐⭐⭐

👍 Guys, If you like this post and find it knowledgeable, then please Vote, Support and Share this post.
(Press the star symbol at the beginning of the post.)

Point No. (1)

Whether you learn music from a teacher or learn music online, you will have to run your mind very fast. What I mean is that if you learn anything, then your mind should be so sharp that if you watch anything or learn any lesson of music, it should sit in your mind very well. If it doesn’t fit well in your mind then you will have to revise it again and again. In this your time will also be wasted and you will also get late in your understanding and you will learn music late.

Point No.(2)

The 2nd point is that whether you want to learn music online or learn music from any guru (Teacher), you will get the same lesson, whatever you will be taught in a music class, you can also learn everything online. If you attend, first of all you will be told about Swar Gyan (Music Notes Knowalage) i.e. how many notes are there in the music. After that the identity of those notes will be told. What are the decorations after that? You will be taught how to play them, followed by short bhajans and then Ragas and then Songs, Ghazals, Bhajans, whatever you want to learn. Friends, on this website of mine, you will get to read many such posts from basic to advanced level, in which you will get all kinds of information about music. Everything you need to learn music and you will find many such videos on my youtube channel Mr Jollys Music Classes. Seeing which you can learn music online from your mobile, laptop or computer while sitting at your home.

Point No.(3)

The next point is that when you go to learn music from a teacher, you will be told about every detail of music from basic level to advanced level in that class and you can also find out about all these nuances online. You can learn this very easily by watching videos on YouTube or even by reading posts on the website. What are the nuances in music. I have also written two posts on this subject and also made a video. If you want, you can go to that post and watch that video too.

Point No.(4)

The next point is that if you go to learn music from a guru (Teacher) in class, then that guru will tell you about your every mistake. If you sing or play anything wrong, it will keep telling you whether you are playing wrong or playing right but if you learn music online there will be no one to tell you. You have to prepare your ears so that you can catch your mistake by hearing that you are singing wrong, or playing wrong, I have also written a post on this subject. If you read that posts then you will know whether you are learning music right or wrong.

Point No.(5)

The next point is that if you go to learn music from a guru (Teacher) , then you will have to pay a fee every month. Suppose if you learn music from anyone for 3 years and pay 1000 fees every month, then you will pay Rs 36000 for 3 years. Fees will have to be paid, I have only mentioned the fees of an honest teacher. Maybe you will also find a guru who does not even teach you music and keeps charging you every month because there are many people in this world who also take fees and do not teach music well. . I am saying this because I have seen such a guru (Teacher) too. So if I tell you a rough calculation, your 36000 will be spent in learning music and if you go from a village to a city to learn it, then ten twelve thousand rupees are rented and along with the harmonium, then adding the total will take you to learn your music. ₹ 50000 is spent. On the other hand, if you learn music online and deposit that 50,000 in one of your accounts, then after learning you music, you can make your own home studio and earn money from it by recording your own songs and putting them on YouTube. If your home studio is built then you can record as many songs as you want on it, but if you go to learn music from a teacher then that will be your waste ₹ 50000.

If you ask my advice, then you should learn music online and put all your fees money in your account and set up your home studio because after learning music you will have to get the song recorded. If you go to a music director to get a song recorded, then you will have to pay ₹ 20000 for at least one song for that too. But if you have your own home studio, you can record as many songs as you want and put them on YouTube.

You can also Visit and Subscribe to My YouTube channel Mr.jolly’s Music Classes to See Knowledgeful Videos of Theory and Practical related to Music,

Note:—-You can also follow me on my podcast channels to learn and understand music more easily, where I upload audio episodes related to music. You will find links to both in the description of any video on my YouTube channel ‘Mr. Jolly’s Music Classes

📝 Note :— Guys, if you have any question related to Indian Classical Music or you want to give any suggestion, then you can tell me by commenting below this post. And if you want to read a post on a particular topic and you want me to write a post on that topic or else you want to learn to sing and play a particular song, Ghazal, Bhajan or Qavali on Harmonium or Keyboard and you want If I make a video by making its notation, then you can also tell me about it by commenting below this post. I will try my best to write post and make video on that topic.

🙏🎶🇲🇾🎵🇨🇦🎤🇱🇷🎹🇬🇧🎻🇬🇧🎤🇦🇮🎷🇱🇷🎶🇳🇪🙏

Online संगीत सीखने में फायदा है या किसी गुरु से?

दोस्तो कोई टाइम था कि संगीत सीखने वाले सिर्फ किसी गुरुजन से ही संगीत सकते सीख सकते थे, उनमें से भी कुछ गुरुजन ऐसे थे जो जल्दी संगीत सिखा देते थे, लेकिन कुछ उस्ताद ऐसे होते थे जो कई कई साल तक अपने शिष्य को संगीत नहीं सिखाते थे। अगर वो कुछ भी लेसन देते थे तो बिल्कुल थोड़ा-थोड़ा देते थे। इसी कारण उस वक्त बहुत कम लोग संगीत सीख पाते थे। क्योंकि कई साल तक धैर्य रखना शायद हर किसी के बस की बात नहीं है।इसी कारण बहुत सारे संगीत सीखने वाले संगीत सीखना बीच में ही छोड़ कर चले जाते थे। लेकिन आज का टाइम बहुत अच्छा है। आपको संगीत सीखने के लिए बहुत सारे ऑप्शन मिल जाते हैं। आज ऑनलाइन भी ऐसे बहुत सारे रास्ते बन गए हैं कि कोई भी इंसान बिना किसी गुरु के ही और बिना कोई फीस दिए ही बहुत अच्छी तरह से और जल्दी से जल्दी संगीत सीख सकता है। और आप में से बहुत सारे लोग जो भी इस पोस्ट को पढ़ रहे हैं तो वह लोग भी इस बात को बड़ी अच्छी तरह से जानते होंगे और जो लोग संगीत सीखना चाहते हैं तो उनके मन में एक सवाल ज़रूर आता है कि किसी गुरु से संगीत सीखना चाहिए कि ऑनलाइन सीखना चाहिए। मेरे कहने का मतलब है कि ऑनलाइन संगीत सीखने में फायदा है या किसी गुरुजन से संगीत सीखने में फायदा है। आज की इस पोस्ट में मैं आपको कुछ ऐसे 5 पॉइंट बताने वाला हूं जिनको जानने के बाद आपको पता चल जाएगा कि आपको संगीत किसी गुरुजन से सीखने में फायदा है या ऑनलाइन सीखने में फायदा है ? और अगर आप संगीत सीखना चाहते हैं तो आप यह पोस्ट पढ़ने के बाद बड़ी आसानी से निर्णय लिए पाएंगे कि आपको संगीत किसी गुरुजन से सीखना चाहिए या ऑनलाइन सीखना चाहिए।
और वह पॉइंट कौन-कौन से हैं जिनको जानने के बाद आप ये फैसला कर सकते हैं कि आपको संगीत ऑनलाइन सीखना चाहिए या किसी गुरुजन से सीखना चाहिए चलिए अब एक-एक करके आपको बता देते हैं।:-

⭐⭐⭐⭐⭐

👍 नोट:–अगर आपको ये पोस्ट पसंद आए और नॉलेजफुल लगे तो इस पोस्ट को वोट, स्पॉट और शेयर जरूर करें (स्टार के निशान को दबाऐं जो पोस्ट की शुरुआत में हैं)

Point No.(1)

आप चाहे किसी गुरुजन से संगीत सीखे या फिर ऑनलाइन संगीत सीखे आपको अपना दिमाग बहुत तेज चलाना पड़ेगा। मेरे कहने का मतलब यह है कि आप अगर कुछ भी सीखेंगे तो आपका दिमाग इतना तेज होना चाहिए किअगर आप कुछ भी देखें या संगीत का कोई भी लेसन सीखें तो वह आपके दिमाग में एक बड़ी अच्छी तरह से बैठ जाना चाहिए। अगर वह आपके दिमाग में अच्छी तरह नहीं बैठेगा तो आपको बार-बार उसकी रिवीज़न करनी पड़ेगी। इसमें आपका टाइम भी वेस्ट होगा और आपके समझ में भी लेट आएगा और आप संगीत लेट से सीखेंगे।तो आप संगीत सीखते वक्त कोशिश करें कि आपका दिमाग बहुत ज़्यादा तेज चले और आप की संगीत पर पकड़ बहुत अच्छी हो,

Point No.(2)

दूसरा पुआंइट ये है कि आप चाहे संगीत ऑनलाइन सीखें या फिर किसी गुरु से संगीत सीखें आपको लैसन सेम ही मिलेंगे जो कुछ आपको संगीत क्लास में सिखाया जाएगा वही सब कुछ आप ऑनलाइन भी सीख सकते हैं।सबसे पहले आप अगर किसी गुरुजन से किसी भी क्लास को एंटेंड करेंगे तो सबसे पहले आपको स्वर ज्ञान यानी के संगीत में कितने स्वर होते हैं, उसके बारे में बताया जाएगा। उसके बाद उन सवरों की पहचान बताई जाएगी। उसके बाद अलंकार क्या होते हैं। कैसे बजाए जाते हैं उनके बारे में उसके बाद छोटे-मोटे भजन और उसके बाद राग और उसके बाद गीत, ग़ज़ल, भजन जो कुछ भी आप सीखना चाहते हैं, वो सब आपको सिखाए जाएंगे। दोस्तों मेरी इस वेबसाइट पर आपको ऐसी बहुत सारी बेसिक से लेकर एडवांस लेवल तक की पोस्ट पढ़ने को मिल जाएंगे जिनमें आपको संगीत की हर तरह की जानकारी मिल जाएगी। संगीत सीखने के लिए जो जो भी ज़रूरी होती है और आपको मेरे यूट्यूब चैनल मि़ जोलीज़ म्यूजिक क्लासेस पर ऐसे बहुत सारे वीडियो देखने को मिल जाएंगे। जिनको देखकर आप अपने घर पर ही बैठकर ही अपने मोबाइल, लैपटॉप या कंप्यूटर द्वारा ऑनलाइन ही संगीत सीख सकते हैं।

Point No.(3)

अगला पुआंइट यह है कि जब आप किसी गुरुजन से संगीत सीखने जाएंगे तो आपको उस क्लास में बेसिक लेवल से लेकर एडवांस लेवल तक कि संगीत की हर बारीकी के बारे में बताया जाएगा और इन सब बारीकियों के बारे में आप ऑनलाइन भी पता कर सकते हैं। यूट्यूब पर वीडियो देख कर या वेबसाइट पर पोस्ट पढ़कर भी आप ये बडी आसानी से जान सकते हैं। कि संगीत में कौन-कौन सी बारीकियां होती है। इस विषय पर मैंने दो पोस्ट भी लिखी हुई है और वीडियो भी बनाई हुई है। आप चाहे तो वह पोस्ट में पड़ सकते हैं और वह वीडियो भी देख सकते हैं।

Point No.(4)

अगला पुआंइट ये है कि अगर आप किसी गुरुजन से क्लास में संगीत सीखने जाएंगे तो वह गुरु आपकी हर गलती के बारे में आपको बताएगा। अगर आप कुछ भी गलत गाएंगे या बजाएंगे तो वह आपको बताता रहेगा कि आप गलत बजा रहे हैं या फिर सही बजा रहे हैं लेकिन अगर आप ऑनलाइन संगीत सीखेंगे तो आपको बताने वाला कोई नहीं होगा। आपको अपने कानों को इतना तैयार करना पड़ेगा कि आप अपनी गलती सुनकर पकड़ पाएं कि आप गलत गा रहे हैं, या गलत बजा रहे हैं इस विषय पर भी मैंने एक पोस्ट लिखी हुई है। आप उस पोस्ट को पढ़ लेंगे तो आपको पता चल जाएगा कि आप संगीत सही सीख रहे हैं या गलत सीख रहे हैं।

Point No.(5)

अगला पुआंइट यह है कि अगर आप संगीत किसी गुरुजन से सीखने जाएंगे तो आपको हर महीने फीस देनी पड़ेगी।मान लो अगर आप किसी को भी गुरूजन से 3 साल संगीत सीखते हैं और हर महीने 1000 फीस देते हैं, तो आपको 36000 रुपए 3 साल की फीस देनी पड़ेगी, यह सिर्फ मैंने एक ईमानदार टीचर की फीस बताई है। हो सकता है कि आपको कोई ऐसा गुरु भी मिल जाए जो आपको संगीत भी ना सिखाए और आपसे हर महीने फीस भी लेता रहे क्योंकि इस दुनिया में ऐसे बहुत सारे लोग भी हैं जो फीस भी लेते हैं और संगीत अच्छी तरह से संगीत भी नहीं सिखाते हैं। यह बात मैं इसलिए कह रहा हूं क्योंकि मैंने ऐसे गुरुजन को भी देखा हुआ है। तो अगर मैं मोटा मोटा सा हिसाब आपको बताऊं तो आपका 36000 संगीत सीखने में लग जाएगा और अगर आप किसी गांव कसबे से किसी शहर में सीखने जाते हैं तो दस बारह हजार रुपया किराए का और साथ में हरमोनियम भी तो टोटल मिलाकर आप का संगीत सीखने में ₹50000 खर्चा आ जाता है। वहीं अगर आप ऑनलाइन संगीत सीख लेते हैं और उस 50,000 को अपने किसी अकाउंट में जमा करवा देते हैं तो आपको संगीत सीखने के बाद उसी से आप अपना होम स्टूडियो बनाकर अपने गीत खुद से गीत रिकॉर्ड करके यूट्यूब पर डालकर उससे पैसे कमा सकते हैं और जब आपका होम स्टूडियो बन जाएगा तो आप उस पर जितने मर्जी गीत रिकॉर्ड कर सकते हैं, लेकिन अगर आप किसी गुरुजन से संगीत सीखने जाएंगे तो यह ₹50000 आपका बेस्ट ही जाएगा।

अगर आप मेरा मशवरा पूछें तो आपको सगीत ऑनलाइन ही सीखना चाहिए और आप के जितने भी फीस के पैसे हैं, उनको अकाउंट में डाल कर अपना होम स्टूडियो लगा लेना चाहिए क्योंकि संगीत सीखने के बाद आपको गीत रिकॉर्ड करवाने ही पड़ेंगे। अगर आप किसी म्यूजिक डायरेक्टर के पास गीत रिकॉर्ड करवाने जाएंगे तो आपको उसके लिए भी कम से कम एक गीत का ₹20000 देना पड़ेगा। लेकिन अगर आपका खुद का होम स्टूडियो होगा तो आप उस पर जितने मर्जी और जब मर्जी गीत रिकॉर्ड करके यूट्यूब पर डाल सकते हैं।

📝 नोट:—अगर आपका इंडियन क्लासिकल म्यूजिक से रिलेटेड कोई भी सवाल हो या आप कोई सुझाव देना चाहते हैं तो आप इस पोस्ट के नीचे कमेंट करके मुझे बता सकते हैं। और अगर आप किसी खास विषय पर कोई पोस्ट पढ़ना चाहते हैं और आप चाहते हैं कि मैं उस विषय पर पोस्ट लिखूं या फिर आप हरमोनियम या कीबोर्ड पर किसी खास गीत,ग़ज़ल,भजन या कवाली को गाना और बजाना सीखना चाहते हैं और आप चाहते हैं कि मैं उसकी नोटेशन बनाकर वीडियो बनाऊूं तो आप उसके बारे में भी इस पोस्ट के नीचे कमेंट करके मुझे बता सकते हैं। मैं उस विषय पर पोस्ट लिखने की और वीडियो बनाने की पूरी कोशिश करूंगा।


Spread the love

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!