Top 5 Such Good Habits that make you a good Singer or Musician,

Top 5 Such Good Habits that make you a good Singer or Musician

Spread the love

Rate this post

🙏🎶🇲🇾🎵🇨🇦🎤🇱🇷🎹🇬🇧🎻🇬🇧🎤🇦🇮🎷🇱🇷🎶🇳🇪🙏

Top 5 Such Good Habits that make you a good Singer or Musician

🎹🎵🎤Friends, a few days ago I wrote a post in which I told that five such habits that never let you become a good singer or musician, if you have not read that post yet, then you must read that post, read that post. Reading will give you the advantage that if you are learning singing, or you want to become a musician, then by reading that post you will get the benefit that you will come to know about your shortcomings. And you will improve them in time and become a good singer or musician. In today’s post, I am going to tell you five such good habits which will prove to be helpful in making you a good singer or musician. And if you are learning music and what are those five good habits that should be in you so that you can become a good singer or musician, then now let us tell you one by one:–

⭐⭐⭐⭐⭐

👍 If you like this post and find it knowledgeable, then please Vote, Support and Share this post.
(Press the star symbol at the beginning of the post.)

Good Habit No. (1)

(1) The first good habit is to do riyaz continuously:-

Friends, if you do riyaz consistently and in the right ways, then you will definitely become a good singer or musician one day. Whether you do Riyaz for 4 hours, whether you do Riyaz for 2 hours or do one hour of Riyaz, but you have to do Riyaz continuously, because only by doing Riyaz your throat is ready for singing and you will also recognize the vowels. Is. When you do Riyaz continuously, then you get to know which voice is thick, whose patti is and you also get to know very well about their frequency. Behind making any person a good singer or musician, the Riyaz done by him has a big role. If any person becomes a good singer or musician then it is only because of you Riyaz. What are the benefits of doing Riyaz and in how many ways you should do Riyaz. Benefits of Riyaz (Music Practice) and Best Ways.I have also made a video on this subject and have written two posters. To get more information, you can watch that video and read that post too, then you will know what are the benefits of doing Riyaz and in how many ways you should do Riyaz?
Read More:–Top 10 ways to do Riyaz (Music Practice)

Good Habit No. (2)

Constantly learning something new and experimenting in music :-

If you have a habit of constantly learning something new and experimenting in music or say, hobby, then this habit can also make you a very good singer or a musician one day. I try to learn something new or if you experiment, then you get to know new things and your hand is very fast on any instrument and your mind is also very fast and you are a good singer. Or become successful in becoming a musician. So no matter what country you live in and whatever kind of music you are learning, whether you are learning classical. Whether you are learning western, whether you are learning pop, then in that if you sing anything in that music, then try to sing it in a new way.

Read More:–Anyone can become a Singer or a Musician just know these 10 special things

Good Habit No. (3)

The next good habit is to listen to good and beneficial music:–

All kinds of music is good, but what I mean to say is that whatever kind of singer you want to be or your style of singing, then you should listen to the best of that kind of music. If you listen to music according to your style i.e. test and you try to sing in the same way, then your throat will be prepared in the same way and you will become the same kind of singer,

Good Habit No. (4)

To learn music more deeply and seriously:–

The next good habit is to learn music deeply and seriously and deeply, if you are learning music deeply with determination and seriousness, then you will definitely become a famous singer or musician one day and music will be successful in the field, I mean to say is that when a person is at the beginner level in music, then while learning music sometimes he starts feeling boring and sometimes that leave learning music for few days in this case his hold on music is not strong. If you are learning music continuously by being serious then you will definitely get success.

Read More:–How to make a career in music field ? Or How to Start Career in Music? (Part-1)

Good Habit No. (5)

Learning the nuances of music:-

The next good habit is that if you are learning music with its nuances, then you have more chances of getting maximum success in music. Instead of learning music in a simple way, you should learn music with its nuances, such as if you are learning Indian classical music, then you must also learn all these nuances of khatka, murki, meend, alap, taan, boltan, music. And along with learning them, you must also use them in your singing and playing. If you do not know which are the main musical nuances in Indian classical music, then I have also made a video and written two posts on that subject, you can watch the video to get more information. And you can read those posts too.

Read More:–These 10 Subtleties of Music Can Make your Singing a lot better (Part-1)

You can also Visit and Subscribe to My YouTube channel Mr.jolly’s Music Classes</strong> to See Knowledgeful Videos of Theory and Practical related to Music,

Note:—-You can also follow me on my podcast channels to learn and understand music more easily, where I upload audio episodes related to music. You will find links to both in the description of any video on my YouTube channel ‘Mr. Jolly’s Music Classes

📝 Note :— Friends, if you have any question related to Indian Classical Music or you want to give any suggestion, then you can tell me by commenting below this post. And if you want to read a post on a particular topic and you want me to write a post on that topic or else you want to learn to sing and play a particular song, Ghazal, Bhajan or Qavali on Harmonium or Keyboard and you want If I make a video by making its notation, then you can also tell me about it by commenting below this post. I will try my best to write post and make video on that topic.

🙏🎶🇲🇾🎵🇨🇦🎤🇱🇷🎹🇬🇧🎻🇬🇧🎤🇦🇮🎷🇱🇷🎶🇳🇪🙏

5 ऐसी अच्छी आदतें जो आपको एक अच्छा सिंगर या संगीतकार बनाती हैं।

दोस्तो कुछ दिन पहले मैंने एक पोस्ट लिखी थी जिसमें मैंने बताया था कि पांच ऐसी आदतें जो आपको कभी एक अच्छा सिंगर या संगीतकार नहीं बनने देती, अगर आपने अभी तक वो पोस्ट नहीं पड़ी है तो आप उस पोस्ट को जरूर पढ़ लें,उस पोस्ट को पढ़ने से आपको ये फायदा त कि अगर आप सिंगिग सीख रहे हैं,या आप एक संगीतकार बनना चाहते हैं तो उस पोस्ट को पढ़ने से आपको यह फायदा होगा कि आप को आपकी कमियों के बारे में पता चल जाएगा। और आप उनको समय रहते ही सुधार लेंगे और एक अच्छे सिंगर या संगीतकार बन सकेंगे। आज की इस पोस्ट में मैं आपको ऐसी पांच अच्छी आदतें बताने वाला हूं जो आपको आप एक अच्छा सिंगर या संगीतकार बनाने में मददगार साबित होंगे। और अगर आप संगीत सीख रहे हैं और वह पांच अच्छी आदतें कौन कौन सी है जो आपके अंदर होनी चाहिए जिससे आप एक अच्छे सिंगर या संगीतकार बन सकें तो चलिए अब एक-एक करके आपको बताते हैं:–

⭐⭐⭐⭐⭐

👍 नोट:–अगर आपको ये पोस्ट पसंद आए और नॉलेजफुल लगे तो इस पोस्ट को वोट, स्पॉट और शेयर जरूर करें (स्टार के निशान को दबाऐं जो पोस्ट की शुरुआत में हैं)

अच्छी आदत नं: (1)

(1)सबसे पहली अच्छी आदत है लगातार रियाज़ करने की:-
दोस्तो अगर आप लगातार और सही तरीकों से रियाज करते हैं तो आप एक ना एक दिन जरूर एक अच्छे सिंगर या संगीतकार बनेंगे। आप चाहे 4 घंटे रियाज करें, चाहे 2 घंटे रियाज करें या फिर एक ही घंटा रियाज़ करें, लेकिन आप को रियाज़ से लगातार करना होगा, क्योंकि रियाज़ करने से ही आपका गला सिंगिंग के लिए तैयार होता है और आपको स्वरों की पहचान भी तभी होती है। जब आप लगातार रियाज़ करते हैं तो आपको पता चल जाता है कि किस सवर की आवाज मोटी है किसकी पत्ली है और उनकी फ्रीक्वेंसी के बारे में भी आपको अच्छी तरह से पता चल जाता है। किसी भी इंसान को एक अच्छा सिंगर या संगीतकार बनाने के पीछे उसके किए हुए रियाज़ का बहुत बड़ा रोल होता है। अगर कोई भी इंसान एक अच्छा सिंगर या संगीतकार बनता है तो आपने रियाज़ की बदौलत ही बनता है। रियाज़ करने के क्या-क्या फायदे हैं और आपको रियाज़ कितने तरीकों से करना चाहिए। इस विषय पर मैंने पहले एक वीडियो भी बनाई हुई है और दो पोस्टर भी लिखी हुई है। अधिक जानकारी लेने के लिए आप उस वीडियो को देख सकते हैं और उस पोस्ट को भी पढ़ सकते हैं तो आपको पता चल जाएगा कि रियाज़ करने से क्या-क्या फायदे होते हैं और आपको रियाज़ कितने तरीकों से करना चाहिए?

अच्छी आदत नं: (2)

लगातार कुछ न कुछ नया सीखना और संगीत में एक्सपेरिमेंट करते रहना:–

अगर आपको संगीत में लगातार कुछ न कुछ नया सीखने की और एक्सपेरिमेंट करने की आदत है या फिर कह लीजिए, शौक है तो यह आदत भी आपको एक ना एक दिन अब बहुत अच्छा सिंगर है या फिर एक संगीतकार बना सकती है।क्योंकि जब आप संगीत में कुछ ना कुछ नया सीखने की कोशिश करते हैं या फिर आप एक्सपेरिमेंट करते हैं तो आपको नई से नई चीजों का पता चलता है और आपका हाथ किसी भी इंस्ट्रूमेंट भी बहुत तेज होता है और आपका दिमाग भी बहुत तेज़ होता है और आप एक अच्छे सिंगर या संगीतकार बनने में सफल हो जाते हैं। इसलिए आप चाहे किसी भी देश के रहने वाले हो और आप चाहे किसी भी तरह का संगीत सीख रहे हो, चाहे आप क्लासिकल सीख रहे हो। चाहे वेस्टर्न सीख रहे हो, चाहे पॉप चाहे आप कुछ भी सीख रहे हो तो उसमें आपको उस संगीत में कुछ भी अगर गाते हैं तो उसको नए नए तरीके से गाने की कोशिश करनी चाहिए।

अच्छी आदत नं: (3)

अगली अच्छी आदत है अच्छा और फायदेमंद संगीत सुनने की:–

संगीत तो वैसे हर तरह का अच्छा होता है, लेकिन मेरा ये कहने का मतलब यह है कि जिस तरह के आप सिंगर बनना चाहते हैं या आपका गाने का सटाईल है तो आपको उस तरह का अच्छा से अच्छा संगीत सुनना चाहिए। आगर अपने स्टाइल यानी कि आपने टेस्ट के हिसाब से संगीत सुनेंगे और आप उसी तरह गाने की कोशिश करेंगे तो आपका गला उसी तरह तैयार होगा और आप उसी तरह के सिंगर बन जाएंगे,

अच्छी आदत नं: (4)

संगीत को गहराई से और सीरियस होकर और गहराई से सीखना:–

अगली अच्छी आदत है संगीत को गहराई से और सीरियस होकर और गहराई से सीखने की, अगर आप संगीत को गहराई से दृढ़ संकल्प और सीरियस होकर पूरी लगन के साथ सीख रहे हैं तो आप एक ना एक दिन ज़रूर एक मशहूर सिंगर या संगीतकार बनेंगे और संगीत के फील्ड में सफल होंगे। मेरे कहने का मतलब यह है कि जब इंसान संगीत में बिगिनर लेवल पर होता है तो वह संगीत सीखते वक्त कभी कभी बोरिंग फील करने लगता है और कभी रियाज़ करता है, कभी नहीं करता है इस तरह उसकी पकड़ संगीत पर मजबूत नहीं हो पाती है तो अगर आप संगीत को सीरियस होकर लगातार सीख रहे हैं तो आपको सफलता जरूर मिलेगी।

अच्छी आदत नं: (5)

संगीत की बारीकियों को सीखना:–

अगली अच्छी आदत ये है कि अगर आप संगीत को उसकी बारीकियों के साथ सीख रहे हैं तो आप को संगीत में ज़्यादा से ज़्यादा सफलता मिलने के चांस हैं। आपको संगीत सिंपल तरीके से सीखने की बजाए संगीत को उसकी बारीकियों के साथ सीखना चाहिए जैसे कि अगर आप इंडियन क्लासिकल म्यूजि़क सीख रहे हैं तो उसमें खाटका, मुरकी, मींड, आलाप, तान, बोलतान, संगीत की ये सब बारीकियां को भी आपको ज़रूर सीख लेनी चाहिए और इन को सीखने के साथ-साथ आपको इनको अपने गायन और वादन में इस्तेमाल भी ज़रूर करना चाहिए। अगर आपको यह नहीं पता है कि भारतीय शास्त्रीय संगीत में कौन-कौन सी मुखिया संगीत की बारीकियां होती है तो उस विषय पर मैंने एक वीडियो भी बनाई हुई है और दो पोस्ट भी लिखी हुई हैं, अधिक जानकारी लेने के लिए आपको वीडियो को देख सकते हैं और उन पोस्ट को भी पढ़ सकते हैं।

📝 नोट:—दोस्तो अगर आपका इंडियन क्लासिकल और फोक म्यूजिक से रिलेटेड कोई भी सवाल हो या आप कोई सुझाव देना चाहते हैं तो आप इस पोस्ट के नीचे कमेंट करके मुझे बता सकते हैं। और अगर आप किसी खास विषय पर कोई पोस्ट पढ़ना चाहते हैं और आप चाहते हैं कि मैं उस विषय पर पोस्ट लिखूं या फिर आप हरमोनियम या कीबोर्ड पर किसी खास गीत,ग़ज़ल,भजन या कवाली को गाना और बजाना सीखना चाहते हैं और आप चाहते हैं कि मैं उसकी नोटेशन बनाकर वीडियो बनाऊूं तो आप उसके बारे में भी इस पोस्ट के नीचे कमेंट करके मुझे बता सकते हैं। मैं उस विषय पर पोस्ट लिखने की और डिटेल से वीडियो बनाने की पूरी कोशिश करूंगा।


Spread the love

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!