How is a song made? Process from Writing to Recording

How is a song made? Process from Writing to Recording

Spread the love

Rate this post

How is a song made? Process from Writing to Recording

🙏🎵🇬🇧🎻🇲🇾🎤🇭🇲🇦🇮🇦🇮🎶🇱🇷🎹🇨🇦🇰🇷🥫🇳🇪🙏

🎶🎤🎵 Friends, there are millions of people in this world who listen to music, and there are millions of people in this world who are learning music and want to earn some name in the field of music. Listen for entertainment. Whether you want to succeed in the field of music by learning music, then when you listen to any song, at that time many questions related to music will often come in your mind like how any song is made? How is a song recorded? How is the melody of any song formed? How does a song get released? How is the music of any song made? There are many such questions which must be coming in your mind often and I am writing this post so that you can get answers to these questions through this post, if you read this post very carefully and carefully. You will find answers to many such questions in this post today, friends, there are millions of people in this world who listen to music, and there are millions of people in this world who are learning music and learning music. Want to earn some name in the field. So whatever song you listen to just for entertainment. Whether you want to succeed in the field of music by learning music, then when you listen to any song, at that time many questions related to music will often come in your mind like how any song is made? How is a song recorded? How is the melody of any song formed?,How is any song released? How is the music of any song made? There are many such questions which must be coming in your mind often and I am writing this post so that you can get answers to these questions through this post, if you read this post very carefully and carefully. You will get answers to many such questions in this post today, so now let’s talk on the main topic of this post, out of all the questions I have told you above, the main question is how to record any song. That is, what is the process from writing any song to recording and from recording to release, that is, anywhere else, from uploading on any social media only?
Read More:–Anyone can become a Singer or a Musician just know these 10 special things

Point No. (1)

(1)Any song is written first.

Friends, whether it is a song, a ghazal, a bhajan, a qawwali, a gift or a couplet of any kind, first of all it is written, that is, it is composed, it is written in its words. Even the writer’s mind has imagination which comes in his mind. He writes down those words. Indian songs, ghazals, bhajans have at most 4 parts. The first one is sathai first Part of any song) which is also called Mukhda (first Part of any song) and the rest has three parts which are called antare.(Stanzas) There can be three in a song as antare (Stanzas). There may be four and there may be two.
Read More:–How to Become a Singer, Musician, Instrument Player or Music Teacher by Learning Music?

(2) Then the song goes to a singer or the singer himself comes to the writer to get the song.

When a song is ready by writing, then the writer of that song goes to a singer with that song or a singer goes to the writer to take that song. After taking the song, it is shown to a music organiser. That is, the music director is shown so that the music of that song can be prepared, and whoever is the music director or music organizer starts preparing the melody and music of that song. He composes some of the music of the song with his mind and some who is the writer of that song, he composes it according to that, he asks the songwriter to hum that song and the gestures and movements of that song. Lets see what kind of song it is. How will it be sung, how will instruments be used in it. All he gets from listening to that song is the idea that what is the requirement in it. How will you bring effect? He decides all this at the same time.
Read More:–After all ! How long does it take to learn music?

(3) After that the track of that song is ready.

After seeing all this, the single track of that song is prepared. That is, that song is sung in the voice of the singer and nowadays all this is done mostly by computer, there are many types of music software with the help of which any song is recorded, which is in the language of music production. D. A. W (digital.audio.workstation), as in af. Fl. Studio, Cubase, Ableton, there are many types of music software with the help of which any song is recorded, which in the language of music production is D.A. Called W (Digital. Audio. Workstation), the tempo of the singer, that is, the speed of the song, is set when recording vocals.

(4) After recording the vocals, its audio processing is done.

After recording the song at the prescribed tempo, its vocal processing is done. Meaning, whatever is lacking in his vocals, it is removed. If the pitch is up-down or the singer has sung incoherently, then that part is done in tune, in the language of music production, it is called pitching.

(5) Music arrangement and beat arrangement are done after vocal processing.

After vocal processing, music arrangement and beat arrangement is done in DAW. In this, the sound effects are arranged according to the requirement of the song. Music arrangement is done according to which song will suit what kind of music.

(6) Mixing and mastering of the song is done after the music arrangement is done.

After the music arrangement is done, mixing and mastering of the song is done. In this, every sound effect is taken care of, whose voice is to be kept low, whose voice is to be kept more, everything is seen. After the mixing and mastering of the song, the song becomes final and after that D.A. From W, it is exported to the PC or laptop in which its music is prepared, and after that wherever it has to be uploaded, such as to upload it to YouTube or to give it to any company, then it is given to it. And after that the song comes in the market. So friends, this is the whole process. From the time of writing any song to coming in the market, I hope that the information that I have given to you in this post, you must have got it well. If you still have any doubt, question or suggestion, then you can tell me by commenting below this post. And if you want to learn music. Want to learn singing or learn to play an instrument or want to know more about Indian classical music then you can also visit my youtube channel Mr.Jollys Music Classes. There I have uploaded many theory and practical videos related to Indian classical and folk music. Seeing them, you are sitting at your home without paying any fees online through your mobile laptop or computer. can learn music.
Read More ,:–Introduction of kulwinder Jolly (Mr.jolly) Mr.jolly Introduction मेरा परिचय mr.jolly

You can also Visit and Subscribe to My
YouTube channel Mr.jolly’s Music Classes to See Knowledgeful Videos of Theory and Practical related to Music,

Note:–You can also follow me on my podcast channels to learn and understand music more easily where I upload music audio episodes.

कोई भी गीत कैसे बनता है? राईटिंग से लेकर रिकॉर्डिंग तक का प्रोसेस

🎵🎤🎶 दोस्तो इस दुनिया में लाखों करोड़ों लोग ऐसे हैं जो गीत संगीत सुनते हैं, और इस दुनिया में लाखों-करोड़ों लोग ऐसे भी हैं जो गीत संगीत सीख रहे हैं और संगीत के फील्ड में कुछ नाम कमाना चाहते हैं।तो आप चाहे कोई भी गीत सिर्फ एंटरटेनमेंट के लिए सुनते हैं। चाहे आप गीत संगीत सीखकर म्यूजिक के फील्ड में कामयाब होना चाहते हैं तो जब आप किसी भी गीत को सुनते हैं तो उस वक्त आपके दिमाग में मयुजिक से रिलेटेड बहुत सारे सवाल अक्सर आते रहते होंगे जैसे कि कोई भी गीत कैसे बनता है? कोई भी गीत कैसे रिकॉर्ड होता है? किसी भी गीत की धुन कैसे बनती है? कोई भी गीत कैसे रिलीज होता है? किसी भी गीत का संगीत कैसे तैयार होता है? ऐसे बहुत सारे सवाल है जो आपके मन में अक्सर आते रहते होंगे और यह पोस्ट मैं इसलिए लिख रहा हूं तांकि आपके इन सवालों के जवाब आपको इस पोस्ट के द्वारा मिल सकें, अगर आप इस पोस्ट को बड़े अच्छे तरीके से और ध्यान से पढ़ लेंगे तो आपके ऐसे बहुत सारे सवालों के जवाब आपको आज इस पोस्ट में मिल जाएंगे,दोस्तो इस दुनिया में लाखों करोड़ों लोग ऐसे हैं जो गीत संगीत सुनते हैं, और इस दुनिया में लाखों-करोड़ों लोग ऐसे भी हैं जो गीत संगीत सीख रहे हैं और संगीत के फील्ड में कुछ नाम कमाना चाहते हैं।तो आप चाहे कोई भी गीत सिर्फ एंटरटेनमेंट के लिए सुनते हैं। चाहे आप गीत संगीत सीखकर म्यूजिक के फील्ड में कामयाब होना चाहते हैं तो जब आप किसी भी गीत को सुनते हैं तो उस वक्त आपके दिमाग में मयुजिक से रिलेटेड बहुत सारे सवाल अक्सर आते रहते होंगे जैसे कि कोई भी गीत कैसे बनता है? कोई भी गीत कैसे रिकॉर्ड होता है? किसी भी गीत की धुन कैसे बनती है?,कोई भी गीत कैसे रिलीज होता है? किसी भी गीत का संगीत कैसे तैयार होता है? ऐसे बहुत सारे सवाल है जो आपके मन में अक्सर आते रहते होंगे और यह पोस्ट मैं इसलिए लिख रहा हूं तांकि आपके इन सवालों के जवाब आपको इस पोस्ट के द्वारा मिल सकें, अगर आप इस पोस्ट को बड़े अच्छे तरीके से और ध्यान से पढ़ लेंगे तो आपके ऐसे बहुत सारे सवालों के जवाब आपको आज इस पोस्ट में मिल जाएंगे,तो चलिए अब इस पोस्ट के मेन टॉपिक पर बात करते हैं,मैंने आपको जितने भी सवाल ऊपर बताए हैं उनमें से सबसे मुख्य सवाल ये होता है कि कोई भी गीत कैसे रिकॉर्ड होता है यानी कि किसी भी गीत को लिखने से लेकर रिकॉर्डिंग तकऔर रिकौडिंग से लेकर रिलीज तक यानी कि अन्य कहीं भी किसी सिर्फ सोशल मीडिया पर अपलोड करने तक का प्रोसेस क्या होता है?

Point No. (1)

सबसे पहले कोई भी गीत लिखा जाता है।

दोस्तो चाहे वो कोई गीत हो, गजल हो, भजन हो, कव्वाली हो, भेंट हो या किसी भी तरह का कोई दोहा हो,सबसे पहले उसको लिखा जाता है यानि कि उसकी रचना की जाती है, उसके शब्दों में लिखा जाता है।यह किसी भी राइटर के मन की कल्पना होती है जो उसके दिमाग में आता है। वह उन शब्दों को लिख देता है।जो इंडियन गीत, ग़ज़ल,भजन होते हैं, उनमें मोस्ट 4 पार्ट होते हैं। सबसे पहला होता है सथाई जिसको मुखड़ा भी बोलते हैं और बाकी उसके तीन पार्ट होते हैं जिनको अंतरे बोला जाता है।अंतरे किसी गीत में तीन भी हो सकते हैं। चार भी हो सकते हैं और दो भी हो सकते हैं।

(2) फिर वह गीत किसी सिंगर के पास जाता है या सिंगर खुद गीत लेने के लिए राइटर के पास आता है।

जब कोई गीत लिखकर तैयार हो जाता है तो वह जो गीत का राइटर होता है वह उस गीत को लेकर किसी सिंगर के पास जाता है या फिर कोई सिंगर उस गीत को लेने के लिए उसे राइटर के पास जाता है। गीत लेने के बाद उसको किसी म्यूजिक ऑर्गेनाइजर को दिखाया जाता है। यानी कि म्यूजिक डरैकटर को दिखाया जाता है तांकि उस गीत का म्यूजिक तैयार हो सके,और जो भी म्यूजि़क डरैकटर या म्यूजिक ऑर्गनाईसर होता है उस गीत की धुन और म्यूजिक तैयार करना शुरू करता है। वह गीत का म्यूजिक कुछ तो अपने दिमाग से तैयार करता है और कुछ जो उस गीत का राईटर होता है, उसके हिसाब से तैयार करता है, वो सॉन्ग राइटर को उस गीत को गुनगुनाने के लिए बोलता है और उस गीत के हाव-भाव और चलन देख लेता है कि किस तरीके का गीत है। कैसे गाया जाऐगा कैसे-कैसे उसमें इंस्ट्रूमेंट यूज़ होंगे। वह सारा कुछ उस गीत के सुनने से आइडिया लगा लेता है कि उसमें क्या क्या रिक्वायरमेंट है। कैसे इफेक्ट लाएंगे। यह सब कुछ वह उसी वक्त तय कर लेता है।

(3) उसके बाद उस गीत का ट्रैक तैयार होता है।

यह सब कुछ देखने के बाद उस गीत का सिंगल ट्रैक तैयार होता है। यानी कि उस गीत को सिंगर की आवाज़ में गवाया जाता है और आजकल यह सब कुछ जयातर कंप्यूटर के द्वारा ही होता है, ऐसे कई तरह के म्यूजिक के सॉफ्टवेयर हैं जिनकी मदद से किसी भी गीत को रिकॉर्ड किया जाता है जिनको म्यूजिक प्रोडक्शन की भाषा में डी. ए. डब्ल्यू (डीजीटल. औडियो. वरकशटेशन) कहा जाता है, जैसे कि अैफ. अैल. सटूडीये, क्यूबेस, अैबलटन, ऐसे कई तरह के म्यूजिक के सॉफ्टवेयर हैं जिनकी मदद से किसी भी गीत को रिकॉर्ड किया जाता है जिनको म्यूजिक प्रोडक्शन की भाषा में डी. ए. डब्ल्यू (डीजीटल. औडियो. वरकशटेशन) कहा जाता है, सिंगर की वोकल को रिकॉर्ड करते वक्त उसका टेंपु यानी कि गीत की स्पीड को सेट कर लिया जाता है।

(4) वोकल रिकौरड करने के बाद उसकी ऑडियो परोसैसिंग की जाती है।

गीत को निर्धारित टेंपो पर रिकॉर्ड करने के बाद उसकी वोकल प्रोसेसिंग की जाती है। मतलब उसकी वोकल में जो कम होती है, उसको दूर किया जाता है। अगर पिच अप डाउन हो या सिंगर ने बेसुरा गा दिया है तो उस भाग को सुर में किया जाता हैम्यूजिक प्रोडक्शन की भाषा में इसे पीचिंग करना कहते हैं।

(5) वोकल प्रोसेसिंग के बाद म्यूजिक अरेंजमेंट और बीट अरेंजमेंट किया जाता है।

वोकल प्रोसेसिंग होने के बाद डी. ए.डब्ल्यू में म्यूजिक अरेंजमेंट और बीट अरेंजमेंट किया जाता है। उसमें गीत की रिकवायरमेंट के अनुसार साउंड इफेक्ट अरेंज किए जाते हैं। किस गीत पर कैसा म्यूजिक अच्छा लगेगा उसके हिसाब से म्यूजिक अरेंजमेंट किया जाता है,

(6) म्यूजिक अरेंजमेंट होने के बाद गीत की मिकिसिंग और मास्टरिंग की जाती है।

म्यूजिक अरेंजमेंट होने के बाद गीत की मिक्सिंग और मास्टरिंग की जाती है। उसमें हर साउंड इफेकट का ध्यान रखा जाता है कि किस की आवाज कम रखनी है किसकी ज्यादा रखनी है यह सारा कुछ देखा जाता है।गीत की मिक्सिंग और मास्टरिंग हो जाने के बाद गीत फाइनल हो जाता है और उसके बाद डी. ए. डब्ल्यू से उसको पीसी या लैपटॉप में जिसमें उसका म्यूजिक तैयार होता है, उसको एक्सपोर्ट कर दिया जाए दिया जाता है और उसके बाद जहां पर भी उसको अपलोड करना होता है जैसे कि यूट्यूब पर अपलोड करना हो या किसी कंपनी को देना हो तो उसको दे दिया जाताऔर उसके बाद वह गीत मार्केट में आ जाता है।तो दोस्तो यही सारा कुछ प्रोसेस होता है। एक किसी भी गीत को लिखे जाने से लेकर मार्केट में आने तक का मुझे उम्मीद है जो जानकारी मैंने इस पोस्ट में आपको दी है वो आपको अच्छी तरह से मिल गई होगी। अगर आपको फिर भी कोई डाउट है सवाल है या कुछ सुझाव है तो आप इस पोस्ट के नीचे कमेंट करके मुझे बता सकते हैं।और अगर आप संगीत सीखना चाहते हैं। सिंगिंग सीखना चाहते हैं या कोई इंस्ट्रूमेंट बजाना सीखना चाहते हैं या इंडियन क्लासिकल म्यूजिक के बारे में ज्यादा जानकारी चाहते हैं तो आप मेरे यूट्यूब चैनल मिस्टर जोलीज म्यूजिक क्लासेस पर भी विजिट कर सकते हैं। वहां पर मैंने इंडियन क्लासिकल और फोक म्यूजिक से रिलेटिड थ्योरी और प्रैक्टिकल की बहुत सारी वीडियोस अपलोड की हैं। आप उनको देखकर अपने घर पर बैठकर ही अपने मोबाइल लैपटॉप या कंप्यूटर द्वारा ऑनलाइन ही बिना कोई फीस दिए हुए हैं। संगीत सीख सकते हैं।


Spread the love

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!