10 Thaats of Indian classical music and their main ragas

Spread the love

Rate this post
🙏🎼🇲🇾🎤🇦🇮🥫🇰🇷🇱🇷🎵🇨🇦🎶🇭🇲🇬🇧🎷🇳🇪🙏

10 Thaats of Indian classical Music and their main Ragas

 
 

Friends, if you are also learning music, Especially Indian classical music, then you must know about the Thaats of Indian classical music, how many types of Thaats are there, and who is the main raga of those Thaats those who are at the advance level in music they maybe  know about it, but those who are just beginners maybe  not know about it, so in today’s post we will tell you about Thaats of Indian classical music.  How many main thaats are there and what are their main ragas, then friends are the main ten thaats in Indian classical music, whose names are Bilawal, Yaman or Kalyan, Khammaz, Bhairav, Purvi, Marwa, Kafi, Todi, Asavari, Bhairavi of these ten Thaats.  11th there is another thaath whose name is Dhenuka but he is not in the papulor, only these ten thaats are counted in Indian classical music, so first of all we tell you the ascents and descents of these ten thaaths, later we will tell you their main ragas.  Will tell  you first Aroh, avroh of ten Thaats,

 10) Thaats of Indian classical music

 (1) Bilawal :-

Aaroh :- S R G M P D N S°

Avroh :– S° N D P M G R S

 (2) Yaman Kalyan :-

Aaroh :- S R G m’ P D N S°

Avroh :– S° N D P m’ G R S

 (3) Khammaz :-

Aaroh :- S R G M P D n S°

Avroh :– S° n D P M G R S

 (4) Bhairav ​​:-

Aaroh :- S r G M P d N S°

Avroh :– S° N d P M G r S

 (5) Purvi :-

Aaroh :- S r G m’ P d N S°

Avroh :– S° N d P m’ G r S

 (6) Marwa :-

Aaroh :- S r G m’ P D N S°

Avroh :– S° N D P m’ G r S

 (7) Kafi:-

Aaroh :- S R g M P D n S°

Avroh :– S° n D P M g R S

 (8) Todi :-

Aaroh :- S r G m’ P d N S°

Avroh :– S° N d P m’ G r S

 (9) Asavari :-

Aaroh :- S R g M P d n S°

Avroh :– S° n d P M g R S

 (10) Bhairavi :-

Aaroh :- S r g M P d n S°

Avroh :– S° n d P M g r S

       Main Ragas of 10 Thaats

 (1) Bilawal :- Shuddh Bilawal, Alhaiya Bilawal, Shankara, Kukumbh, Deshkar, Durga, Pahari, Bihag, Asa, Gond, Gound Malhar, Hansdhwani

(2) Yaman Kalyan :- Shuddh Kalyan, Yaman Kalyan, Bhopali, Hamir, Hindol, Goud Sarang, Chhayanat, Kedar,

(3) Khammaj :- Khammaz, Tilak Kamod, Tilang, Rageshiri, Desh, Jai-Jai Vanti, Kalavati, Malgunji, Sorath,

(4) Bhairav ​​:- Bhairav, Ahir Bhairav, Prabhat, Gunakali, Jogia, Kalingada, Bairagi, Nat Bhairav, Ramkali, Gauri, Basant Mukhari, Vibhas

(5) Purvi:- Purvi, Puriya Dhanashree, Sri, Gauri, Basant, Lalit

(6) Marwa :- Marwa, Sohni, Puriya, Batihar

(7) Kafi :- Vrindavani Sarang, Bahar, Mian Malhar, Singhora, Bhimpalasi, Bageshree, Peelu, Patdeep, Dhanashree, Malhar, Megh, Megh Malhar, Shivranjani, Desi, Jog, Basant Bahar

(8) Todi :- Todi, Multani, Gujri, Madhuvanti,

(9) Asavari :- Desi, Adana, Darbari Kanada, Jaunpuri,

(10) Bhairavi :- Bhairavi, Malkauns, Bhupal Todi, Bilaskhani todi,

भारतीय शास्त्रीय संगीत के 10 थाठ और उनके मुख्य राग

 

🙏🎼🇲🇾🎤🇦🇮🥫🇰🇷🇱🇷🎵🇨🇦🎶🇭🇲🇬🇧🎷🇳🇪🙏

दोस्तो आगर आप भी संगीत सीख रहे हैं खासतौर पर भारतीय शात्रीय संगीत सीख रहे हैं तो आपको भारतीय शात्रीय संगीत के थाठों के बारे में जरूर पता होना चाहिए कि थाठ कितने प्रकार के होते हैं थाठों को संख्या कितनी है, और उन थाठों के मुख्य राग कौन कौन से हैं जो लोग तो संगीत में अंडवास लेवल पर हैं उनको तो शायद इसके बारे में पता हो लेकिन जो लोग अभी बिगनर हैं उन्हें शायद इसके बारे में ना पता हो तो आज की इस पोस्ट में हम आपको बताएंगे कि भारतीय शत्रीय संगीत के मुख्य कितने थाठ हैं और उनके मुख्य राग कौन कौन से हैं तो दोस्तो भारतीय शात्रीय संगीत में मुख्य दस थाठ हैं जिनके नाम हैं बिलावल, यमन या कल्याण, खम्माज,भैरव, पूर्वी, मारवा,काफी,तोड़ी, आसावरी, भैरवी इन दस थाठों के इलावा एक थाठ और भी है जिसका नाम है धेनूका पर वो प्रचार में नहीं हैं सिर्फ ये दस थाठ ही भारतीय शत्रीय संगीत में गिने जाते हैं,तो सबसे पहले हम आपके इन दस थाठों के आरोह-अवरोह बता देते हैं बाद में आपको इनके मुख्य रागों के नाम बताएंगे

     भारतीय शास्त्रीय संगीत के 10 थाठ 

(1) बिलावल:–

आरोह :– स रे ग म प ध नी सं

अवरोह :– सं नी ध प म ग रे स

(2) यमन कल्याण:–

आरोह :– स रे ग म॑ प ध नी सं

अवरोह:–सं नी ध प म॑ ग रे स

(3) ख़म्माज :-

आरोह :– स रे ग म प ध नीॖ सं

अवरोह :–सं नीॖ ध प म ग रे स

(4) भैरव:–

आरोह:– स रेॖ ग म प धॖ नी सं

अवरोह :– सं नी धॖ प म ग रेॖ स

(5) पूर्वी :–

आरोह:–स रेॖ ग म॑ प धॖ नी सं

अवरोह:– सं नी धॖ प म॑ ग रेॖ स

(6) मारवा :–

आरोह :–स रेॖ ग म॑ प ध नी सं

अवरोह :–सं नी ध प म॑ ग रेॖ स

(7) काफ़ी :–

आरोह :– स रे गॖ म प ध नीॖ सं

अवरोह :– सं नीॖ ध प म गॖ रे स

(8) तोड़ी :–

आरोह :– स रेॖ ग म॑ प धॖ नी सं

अवरोह :- सं नी धॖ प म॑ ग रेॖ स

(9) आसावरी :–

आरोह :– स रे गॖ म प धॖ नीॖ सं

अवरोह :– सं नीॖ धॖ प म गॖ रे स

(10) भैरवी :–

आरोह :- स रेॖ गॖ म प धॖ नीॖ सं

अवरोह :-सं नीॖ धॖ प म गॖ रेॖ स

                10 थाठों के मुख्य राग 

(1) बिलावल :– शुद्ध बिलावल, अल्हैया बिलावल, शंकरा, कुकुंभ, देशकार, दुर्गा, पहाड़ी, बिहाग, आसा, गौंड, गौंड मल्हार, हंसध्वनि

(2) यमन कल्याण:–शुद्ध कल्याण, यमन कल्याण, भोपाली, हमीर, हिंडोल, गौड़ सारंग, छायानट, केदार,

(3) ख़म्माज :–ख़म्माज, तिलक कामोद, तिलंग, रागेशिरी, देस, जै-जै वन्ती, कलावती, मालगुंजी, सोरठ,

(4) भैरव:–भैरव ,अहीर भैरव, प्रभात, गुणकली, जोगिया, कलिंगड़ा, बैरागी, नट भैरव, रामकली, गौरी, बसंत मुखारी, विभास

(5) पूर्वी :–पूर्वी, पुरिया धनाश्री, श्री, गौरी, बसंत,ललित

(6) मारवा:–मारवा,सोहनी, पूरीया, बटिहार

(7) काफ़ी :– वृन्दावनी सारंग, बहार, मियां मल्हार, सिंघोरा, भीमपलासी, बागेश्री, पीलू, पटदीप, धनाश्री, मल्हार, मेघ, मेघ मल्हार, शिवरंजनी, देसी, जोग, बसंत बहार

(8) तोड़़ी :–तोड़ी, मुलतानी, गुजरी, मधुवंती,

(9) आसावरी :–देसी, अड़ाना, दरबारी कनाड़ा, जौनपुरी,

(10) भैरवी :–भैरवी, मालकौंस,भुपाल तोड़ी, बिलासखानी तो

Note:–Click on the image of Your favourite and Best Quality instrument to Purchase

 

>


Spread the love

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!